Ambient on/off

Sign up

 

Continue

Continue By creating an account you agree to the Terms of Service & Privacy Policy
Resend email   |  Can't find the email? confirmation@erepublik.com

Resend the confirmation email to this address

Resend email Can't find the email? confirmation@erepublik.com

The Honor of eIndia

Day 1,984, 16:01 by Maxi Tippkick Maximillian

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,
देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है ।

करता नहीं क्यों दुसरा कुछ बातचीत,
देखता हूँ मैं जिसे वो चुप तेरी महफिल मैं है ।

रहबर राहे मौहब्बत रह न जाना राह में
लज्जत-ऐ-सेहरा नवर्दी दूरिये-मंजिल में है ।

यों खड़ा मौकतल में कातिल कह रहा है बार-बार
क्या तमन्ना-ए-शहादत भी किसी के दिल में है ।

ऐ शहीदे-मुल्को-मिल्लत मैं तेरे ऊपर निसार
अब तेरी हिम्मत का चर्चा ग़ैर की महफिल में है ।

वक्त आने दे बता देंगे तुझे ऐ आसमां,
हम अभी से क्या बतायें क्या हमारे दिल में है ।
है लिये हथियार दुश्मन ताक मे बैठा उधर
और हम तैय्यार हैं सीना लिये अपना इधर
खून से खेलेंगे होली गर वतन मुश्किल में है
सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

हाथ जिनमें हो जुनून कटते नही तलवार से
सर जो उठ जाते हैं वो झुकते नहीं ललकार से
और भडकेगा जो शोला सा हमारे दिल में है
सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

हम तो घर से निकले ही थे बांधकर सर पे कफ़न
जान हथेली में लिये लो बढ चले हैं ये कदम
जिंदगी तो अपनी मेहमान मौत की महफ़िल मैं है
सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

दिल मे तूफानों की टोली और नसों में इन्कलाब
होश दुश्मन के उडा देंगे हमे रोको न आज
दूर रह पाये जो हमसे दम कहाँ मंजिल मे है
सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है




खींच कर लाई है सब को कत्ल होने की उम्मींद,
आशिकों का जमघट आज कूंचे-ऐ-कातिल में है ।

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,
देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है ।
__
For non Hindi speakers I would translate this poem as mainly that the honor of eIndia is in our hands and we will see that how powerful the oppressor is.I remember seeing the movie Rang de Basanti and I also added the extra lyrics from the movie.If we can believe we will succeed.Unity in diversity is our main strength.So lets show these foreigners that sarfaroshi ki tamana
abhi bhi hamare dil mein hein.Lets take our regions back.
Jail Hind

 

Comments

Maxi Tippkick Maximillian
Maxi Tippkick Maximillian Day 1,984, 16:09

Please do not troll.I don't mind normal trolling but this article honors our nation

citizenneel
citizenneel Day 1,985, 02:04

Wounded Love
Wounded Love Day 1,985, 06:00

Jai Hind !

Octavius Dryst
Octavius Dryst Day 1,985, 22:04

https://www.youtube.com/watch?v=GfESEV5eLPE
Lets drive the capitalist dogs out! Jai Hind!

Maxi Tippkick Maximillian
Maxi Tippkick Maximillian Day 1,986, 05:51

Are you calling me a dog

Octavius Dryst
Octavius Dryst Day 1,986, 12:20

no, the pakistanis

Maxi Tippkick Maximillian
Maxi Tippkick Maximillian Day 1,986, 12:34

Ok

Patanjali
Patanjali Day 1,986, 12:57

Unity in diversity
http://www.youtube.com/watch?v=3g8nQuX8dUg

This is a great booster for any well intended forreigner who came in India but, sure, must be another side of that too.
That one that show any forreigner not well intended, wher the kindness of India stop and turn into something else.

Would like to talk more with you about the limit of Ahimsa.

Nirmal Baba
Nirmal Baba Day 1,986, 13:06

o7

 
Post your comment

What is this?

You are reading an article written by a citizen of eRepublik, an immersive multiplayer strategy game based on real life countries. Create your own character and help your country achieve its glory while establishing yourself as a war hero, renowned publisher or finance guru.